सिविल इंजीनियर बनने के लिए क्या करे?

सिविल इंजीनियर बनने के लिए निम्नलिखित स्टेप नीचे दी गई है बैचलर्स डिग्री हासिल करें मास्टर्स डिग्री हासिल करें सर्टिफिकेशन प्राप्त करें 

सिविल इंजीनियरिंग में क्या पढ़ाया जाता है?

Civil Engineering एक Professional Branch है जिसमें बुनियादी सुविधाएं यानी Infrastructure सुविधाएं की Planning, Design, Construction और Maintenance

सिविल इंजीनियरिंग क्या है?

Civil Engineering Engineering की Professional Branch है इसमें मूल सुविधाएं यानि बुनियादी सुविधाएं के Projects Design Construction और Maintenance के बारे में सिखाया जाता है

सिविल इंजीनियरिंग के बाद क्या करें?

Civil Engineering के बाद आगे इसमें Masters या PhD Courses के लिए जाया जा सकता है। Courses के अलावा इसमें Internship करके अपने Career को शुरू किया जा सकता है।

सिविल इंजीनियर की भारत में सैलरी कितनी होती है?

Private Sector में किसी Civil Engineering को शुरूआती दौर में 25,000-35,000 INR महीना तक की Salary मिल सकती है।

सिविल इंजीनियरिंग में बैचलर्स कोर्स कितने साल का होता है?

Civil Engineering में Bachelors Course 4 साल का होता है।

सरकारी क्षेत्र में सिविल इंजीनियरिंग का स्कोप

Civil Engineering में काफी Career Scope है क्योंकि BE/BTech Civil Engineering Graduates Private Sector और Sectors

सिविल इंजीनियरिंग की उप-शाखाएं

स्ट्रक्चर इंजीनियरिंग जल संसाधन इंजीनियरिंग पर्यावरणीय इंजीनियरिंग जियोटेक्निकल इंजीनियरिंग कंस्ट्रक्शन इंजीनियरिंग भूमि की नाप भूकंप इंजीनियरिंग

सिविल इंजीनियरिंग क्यों करें?

व्यावहारिक अनुभव अध्ययन क्षेत्रों की विविधता पोस्टग्रेजुएट अवसर रोजगार नौकरी से संतुष्टि मूल्यवान कौशल

दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज (world’s top universities)

Massachusetts Institute Of Technology National University Of Singapore Delft University Of Technology University Of California, Berkeley